10 May 2020

Share
आपदामापन्तीनां हितोऽप्यायाति हेतुताम् ।
मातृजङ्घा हि वत्सस्य स्तम्भीभवति बन्धने ॥

जब विपत्तियां आने को होती हैं, तो हितकारी भी उनमें कारण बन जाता है ।
बछड़े को बांधने मे माँ की जांघ ही खम्भे का काम करती है । .

www.sureshotformula.com